विज्ञापन
Buy Domex

टॉयलेट एक्सेसरीज़ को करें साफ़, अपनाएं ये टिप्स नायाब!

टॉयलेट एक्सेसरीज़ की करनी है सफ़ाई? तो चलिए जानते हैं यह आसान जानकारी।

अपडेट किया गया

अपने टॉयलेट की एक्सेसरीज़ को कैसे साफ़ करें | क्लीएनीपीडिया

ज़्यादातर लोग टॉयलेट एक्सेसरीज़ की सफ़ाई पर ज़्यादा ध्यान नहीं देते। साथ ही इन्हें समय पर साफ़ न करने से इनसे गंध आने लगती है और ये ख़राब हो सकते हैं। अगर आप भी टॉयलेट एक्सेसरीज़ को साफ़ करने के आसान उपाय नहीं जानते, तो पेश हैं कुछ टिप्स।

१) स्टील की एक्सेसरीज़

टॉयलेट में लगी स्टील की एक्सेसरीज़- जैसे जेट स्प्रे, कंटेनर को चमकाने के लिए स्प्रे बोतल में १ कप गुनगुना पानी, २ छोटे चम्मच डिशवॉशिंग लिक्विड, विनेगर और नमक डालकर घोल बनाएं। अब इसे सारे एक्सेसरीज़ पर छिड़ककर १० मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें। फिर स्पंज की मदद से रगड़ें। आख़िर में इसे गुनगुने पानी से धोकर सुखाएं। विनेगर और नमक की मदद से एक्सेसरीज़ पर जमे दाग़ और धूल साफ़ होंगे। साथ ही डिशवॉशिंग लिक्विड की मदद से एक्सेसरीज़ चमकने लगेंगी।

२) कांच की सतह या आइना

टायलेट की कांच की सतह या आइने को साफ़ करने का आसान तरीक़ा है साबुन। टॉयलेट में रखी कांच की सतह या आईने पर नहाने के साबुन को रगड़ें। फिर सादे पानी से धोकर सूखे कपड़े से पोछें। इससे कांच की सतह और आइना आसानी से साफ़ होगा। 

विज्ञापन

Buy Domex

३) प्लंजर

प्लंजर की सफ़ाई के लिए बाउल में आधा कप गर्म पानी, २ छोटे चम्मच बेकिंग सोडा, २ छोटे चम्मच डिशवॉशिंग लिक्विड और ४ छोटे चम्मच नींबू का रस मिलाकर घोल तैयार करें। अब स्प्रे बोलत में भरकर प्लंजर के अंदर-बाहर की तरफ़ छिड़ककर इसे १० मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें। आख़िर में इसे गुनगुने पानी से धोएं और सुखाएं।

४) टॉयलेट ब्रश

टॉयलेट ब्रश की सफ़ाई पर कम ध्यान दिया जाता है। इसकी सफ़ाई करने के लिए सबसे पहले बाल्टीभर गुनगुना पानी लें। इसमें ३ छोटे चम्मच ब्लीच मिलाकर ब्रश को १ घंटे के लिए डुबोकर रखें। आख़िर में इसे गुनगुने पानी से धोएं और सुखाएं। अगर आपको ब्लीच का इस्तेमाल नहीं करना है, तो आप बाल्टीभर गुनगुने पानी में ३ छोटे चम्मच डिशवाशिंग लिक्विड और ४ छोटे चम्मच विनेगर का इस्तेमाल कर सकते हैं। साथ ही, अगर आप ब्लीच का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो हाथों में दास्तानें ज़रूर पहनें।

इन आसान तरीक़ो को अपनाकर आप टॉयलेट की एक्सेसरीज़ को साफ़ करें। एक्सेसरीज़ की हफ़्ते में एक बार सफ़ाई ज़रूर करें।

 

मूल रूप से प्रकाशित