विज्ञापन
Buy Comfort Core

ख़त्म हुआ ठंड का मौसम, ऐसे संभाल कर रखें अपना पसंदीदा स्वेटर !

क्या आप नहीं जानते स्वेटर और कार्डिगन को अगले ठंड के मौसम तक कैसे संभाल कर रखें? तो चलिए जानते हैं आसान तरीका।

अपडेट किया गया

अपने पसंदीदा स्वेटर को कैसे संभालकर रखें | क्लीएनीपीडिया

ठंड के मौसम के बाद स्वेटर और कार्डिगन ज़्यादातर पहनते नहीं। साथ ही इन्हें धोएं बिना अलमारी में रख देते हैं, तो कपड़ों से गंध आती है और कपड़ों में फतिंगे अपना घर बनाते हैं। इससे स्वेटर और कार्डिगन ख़राब हो सकते हैं। ऐसा आपके कपड़ो के साथ न हो इसलिए चलिए जानते हैं कैसे करें कपड़ों की देखभाल  और इन कपड़ो को अगले ठंड के मौसम के लिए कैसे संभाल कर रखें।

स्टेप १: कपड़ों को धोएं 

स्वेटर और कार्डिगन को अलमारी में रखने से पहले उन्हें धोएं। स्वेटर और कार्डिगन को धोने से पहले लेबल को पढ़ें और उसी जानकारी के अनुसार ही कपड़ों को धोएं। बेहतरीन परिणाम के लिए ऊनी कपड़ों को धोते वक़्त माइल्ड डिटर्जेंट का इस्तेमाल करें। अगर आप ऊनी कपड़ों को वॉशिंग मशीन में धो रहे हैं, तो ''वुल सेटिंग'' का इस्तेमाल करें। अगर आपकी मशीन में वुल सेटिंग नहीं है, तो आप साधारण सायकल का इस्तेमाल करें और कपड़ों को धोएं। साथ ही ऊनी कपड़ों को मुलायम और ख़ुशबूदार रखने के लिए १/२ कप फ़ैब्रिक सॉफ़्टनर का इस्तेमाल करें।

स्टेप २: कपड़ों को सुखाएं

कपड़ों को धोने के बाद इन्हें सुखाने के लिए हैंगर का इस्तेमाल न करें। इन्हें हैंगर पर सुखाने से कपड़े अपना आकार बदल सकते हैं। इसलिए इन्हें सुखाने के लिए साफ़ तौलिए को समतल सतह पर रखें। अब कपड़ों को इसपर रखकर तौलिए को लपेटें। फिर हल्के हाथों से इन्हें दबाएं। इससे तौलिया कपड़ों से सारा पानी सोख लेगा। जब तौलिया पानी सोख लेगा तब कपड़ों को बाहर निकालें। अब नए तौलिए को फिरसे समतल सतह पर रखें और इसपर कपड़ों को सूखने के लिए बिछाएं। ऊनी कपड़ों को सुखाने का यह एक आसान और कारगर तरीक़ा है।  

स्टेप ३: एयर-टाइट बॉक्स में रखें 

कपड़ों को पूरी तरह से सुखाने के बाद इन्हें एयर-टाइट बॉक्स में रखें। साथ ही कपड़ों को ख़ुशबूदार रखने के लिए इनपर आपका पसंदीदा सुगंधित तेल छिड़कें और देवदार के कुछ पत्ते भी रखें। अब कंटेनर को बंद करें और अलमारी में रखें।

इस आसान तरक़ीब से आप अपने स्वेटर और कार्डिगन अलगी ठंड के मौसम तक सुरक्षित रख सकते हैं। 

विज्ञापन

Buy Comfort Core

मूल रूप से प्रकाशित