विज्ञापन
Buy Domex

ऐसे करें फ़ोन को स्वच्छ और कीटाणु-मुक्त, ताकि ख़ुद को कोरोना वायरस से रखें दूर!

इस कोविड-१९ समस्या के दौरान क्या आप अपने फ़ोन को साफ़ और कीटाणु-मुक्त करने के आसान टिप्स ढूंढ़ रहे हैं? तो चिंता की कोई बात नहीं, हम आपको उन टिप्स की जानकारी देते हैं।

अपडेट किया गया

ऐसे करें फ़ोन को स्वच्छ और कीटाणु-मुक्त, ताकि ख़ुद को कोरोना वायरस से रखें दूर!

आपका मोबाइल फ़ोन हर वक़्त आपके हाथ में होता है। अन्य चीज़ों के मुक़ाबले आप अपने फ़ोन को कई बार छूते हैं, इससे वह सबसे ज़्यादा छुई जाने वाली सतह बन जाता है। बार-बार छुई जाने वाली सतह कोरोना वायरस और अन्य वायरस को आश्रय दे सकती है। हर बार जब आप किसी सतह को छूते हैं और फिर स्मार्टफ़ोन को छूते हैं, तो हो सकता है कि कीटाणु इससे आपके फ़ोन तक पहुंच जाएं। अगर उस जगह पर कोविड-१९ के कीटाणु मौजूद होंगे तो आपने कीटाणुओं को अपने फ़ोन पर पहुंचा दिया होगा।

प्रमुख अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय स्वास्थ्य संगठनों ने नोवेल कोरोना वायरस से बचने के लिए बार-बार छुई जाने वाली सतहों को रोज़ाना कीटाणु-मुक्त करने की सलाह दी है। इसलिए, आपको अपने फ़ोन को नियमित रूप से साफ़ और कीटाणु-मुक्त करते रहना चाहिए।

१) आपके फ़ोन की सफ़ाई और कीटाणु-मुक्त करने का महत्व

अगर आप सार्वजनिक जगह की सतहों को छूने के बाद फ़ोन का इस्तेमाल करते हैं, तो सिर्फ़ हाथों को धोना काफ़ी नहीं, बल्कि आपके फ़ोन को भी स्वच्छ और कीटाणु-मुक्त करना होगा। ऐसा इसलिए, क्योंकि आप शायद जानते होंगे, खांसने और छींकने के बाद कोविड-१९ या नोवेल कोरोना वायरस के कीटाणु ३ फीट तक फैलते हैं और ऐसे में आपके आस-पास की सतहों पर यह पहुंच सकते हैं। साथ ही, अगर कोई खांसते या छींकते वक़्त मुंह पर हाथ रखता है और फिर आपके फ़ोन को छूता है, तो इससे संक्रमण फ़ोन तक पहुंच सकता है। और फिर जब आप अपने फ़ोन को छूते हैं, तब कोविड-१९ के आप तक पहुंचने की प्रक्रिया पूरी हो जाती है। 

२) मोबाइल की सफ़ाई

सबसे पहले फ़ोन को स्विच ऑफ करें और फ़ोन का कवर निकालें। फिर माइक्रोफ़ाइबर क्लॉथ या फिर मुलायम कपड़े से फ़ोन पर लगी गंदगी को साफ़ करें। फ़ोन की बेहतर सफ़ाई के लिए आप इसे कीटाणु-मुक्त भी कर सकते हैं।

ज़्यादातर स्मार्टफ़ोन निर्माता फ़ोन को साफ़ करने के लिए डिसइंफ़ेक्टेंट वाइप्स का इस्तेमाल करने की सलाह देते हैं। और ब्लीच जैसे केमिकल का इस्तेमाल नहीं करने को कहते हैं। केमिकल के इस्तेमाल से फ़ोन पर लगी प्रोटेक्टिव कोटिंग ख़राब हो सकती है। प्रोटेक्टिव कोटिंग आपके फ़ोन को उंगलियों के निशान, गंदगी, तेल और पानी से बचाती है।  

अगर आपके पास डिसइंफ़ेक्टेंट वाइप्स नहीं हैं, तो आप साबुन के घोल का इस्तेमाल कर फ़ोन साफ़ कर सकते हैं। सबसे पहले फ़ोन को कवर से बाहर निकालें, क्योंकि फ़ोन और कवर के बीच में जगह होती है, जिसमें गंदगी और कीटाणु बचे रह सकते हैं। फिर पानी और रोज़ाना इस्तेमाल किए जाने वाले साबुन को मिलाकर घोल बनाएं, उसमें माइक्रोफ़ाइबर क्लॉथ या फिर मुलायम कपड़े को हल्का नम करें। याद रहे, कपड़े को ज़्यादा गीला न करें। अब फ़ोन के बैक कवर, स्क्रीन और अन्य जगह को साफ़ करें। फ़ोन के पोर्ट या फिर खुली हुई जगह पर नमी को जमने न दें। आख़िर में साफ़ माइक्रोफ़ाइबर क्लॉथ से फ़ोन को सुखाएं। फ़ोन को साफ़ करने से पहले फ़ोन के यूज़र मैनुअल में लिखे गए निर्देशों को ज़रूर पढ़ें।

आप टूथपिक या ईयरबड का उपयोग करके फ़ोन के पोर्ट से गंदगी और धूल को हटा सकते हैं।

विज्ञापन

Buy Domex

३) फ़ोन के कवर को कैसे करें साफ़? 

अगर आप फ़ोन को गिरने और गंदगी से बचाने के लिए कवर का इस्तेमाल करते हैं, तो आपको इसे भी साफ़ और कीटाणु-मुक्त करना होगा। क्योंकि फ़ोन की सतह को आप हाथों से छूते हैं और फ़ोन का कवर टेबल, काउंटरटॉप्स, अलमारी आदि जैसी सतहों के संपर्क में आता है। ज़्यादातर फ़ोन के कवर हार्ड प्लास्टिक या फिर सिलिकॉन से बने होते हैं। अब फ़ोन को कवर से बाहर निकालें, फिर कवर को कुछ समय के लिए गुनगुने पानी में भिगोकर रखें। उसके बाद, साबुन के पानी में मुलायम ब्रश या फिर माइक्रोफ़ाइबर क्लॉथ को डुबोकर अच्छे से इसके सारे कोनों की सफ़ाई करें। फ़ोन पर कवर लगाने से पहले इसे अच्छे से सुखाएं।  

४) अपने फ़ोन को कोरोना वायरस से कैसे रखें सुरक्षित?

जहां तक संभव हो, जब आप पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल कर रहे हों, जैसे बस या ट्रेन में, तो फ़ोन का इस्तेमाल तभी करें जब आप बैठे हों और आपके हाथों के सपोर्ट हैंडल या सीट हेड को छूने की संभावना कम हो। अगर आप किसी भीड़-भाड़ वाली जगह पर हैं, तो अपने फ़ोन को अपने हाथ में न रखें, कहीं ऐसा न हो कि उस पर कोई छींक या खांस दे।

बाथरूम और टॉयलेट कीटाणुओं के हॉटस्पॉट होते हैं, ख़ासकर सार्वजनिक टॉयलेट। इसलिए आप सार्वजनिक टॉयलेट का इस्तेमाल करते वक़्त अपने फ़ोन को जेब या फिर बैग में रखें। अगर संभव हो तो घर में भी वॉशरूम का इस्तेमाल करते वक़्त फ़ोन का उपयोग न करें, ख़ासकर तब जब आप कमोड पर बैठे हों। 

ज़्यादा लोगों को अपने फ़ोन का उपयोग करने से रोकें या फिर फ़ोन को छूने न दें। इससे कोरोना वायरस फैलने की संभावना कम होगी।

यदि आप किचन में खाना पकाते वक़्त मांस, मछली, अंडा इत्यादि का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो फ़ोन को स्क्रोल कर रेसिपी पढ़ने की बजाय रेसिपी सुनकर बनाने की कोशिश करें। इससे संक्रमण एक चीज़ से दूसरी चीज़ पर नहीं फैलता है।

सार्वजनिक जगह पर मौजूद टेबल, काउंटरटॉप्स, कुर्सियों ​​आदि पर फ़ोन रखने से बचें, क्योंकि कई बार छुई जाने वाली सतह होने के कारण कोरोना वायरस और अन्य संक्रमण फैलने की संभावना बढ़ जाती है। 

५) कितनी बार फ़ोन को कीटाणु-मुक्त करना चाहिए? 

प्रमुख अंतरराष्ट्रीय स्वास्थ्य संगठन ज़्यादातर छुई जाने वाली सतह को लगातार कीटाणु-मुक्त करने की सलाह देता है। आप फ़ोन को हर रोज़ कीटाणु-मुक्त करें (ख़ासकर तब जब आप बाहर से घर आते हैं।) या फिर हर दूसरे दिन फ़ोन को कीटाणु-मुक्त करें। 

६) मोबाइल क्लीनिंग किट तैयार करें 

आपको फ़ोन और उसके एक्सेसरीज़ की सफ़ाई करने के लिए डिसइंफेक्टेंट वाइप्स या फिर साबुन, पानी, साफ़ माइक्रोफ़ाइबर क्लॉथ या मुलायम कपड़ा और टूथपिक या ईयरबड की ज़रूरत होगी। इन सभी चीज़ों को एक छोटे से बैग में रखें। और इस तरह आपकी मोबाइल क्लीनिंग किट तैयार है।

ये आसान टिप्स आपको और आपके मोबाइल फ़ोन को कोरोना वायरस से सुरक्षित रखने में मदद करेंगे।  

Source:

https://www.who.int/news-room/q-a-detail/q-a-coronaviruses

मूल रूप से प्रकाशित