विज्ञापन
Buy Domex

अपने बच्चे को घर में व्यस्त रखने के लिए अपनाएं ये टिप्स ताकि न हों वो बोर!

इस फ्लू सीज़न में बच्चों का स्कूल जाने के साथ बाहर खेलने जाना भी बंद हो गया है। ऐसे में वे ऊबन महसूस कर सकते हैं, जिस वजह से उनका स्वास्थ्य भी ख़राब हो सकता है। इसलिए उनके रोज़ के काम में थोड़ा-सा बदलाव करना ज़रूरी है ताकि वो घर पर ही मौज-मस्ती कर सकें।

अपडेट किया गया

अपने बच्चे को घर में व्यस्त कैसे रखें | क्लीएनीपीडिया

आपके बच्चे घर पर बैठे-बैठे ऊबे नहीं, इसके लिए उनको अपने साथ घर की गतिविधियों में शामिल करें। साथ ही संक्रमण के डर से उनके साथ समय बिताने से मिलने वाली ख़ुशी को ख़राब न होने दें। इस समय का उपयोग आप अपने बच्चे में छिपी हुई प्रतिभा को खोजने में करें।

यहां पर कुछ आसान और असरदार टिप्स दिए गए हैं, जिन्हें अपनाकर आप अपने बच्चों को घर पर व्यस्त रख सकते हैं।

१) आर्ट और क्राफ़्ट करें

रंग भरने वाली क़िताबें, वॉटर कलर, कलर पेंसिल, क्राफ़्ट पेपर, स्टीकर आदि इकट्ठा करें। अपने बच्चों को मज़ेदार चीज़ें पेंट करने के लिए पुराने साफ़ टूथब्रश या उंगलियों का इस्तेमाल करने दें।

२) बोर्ड गेम खेलें

परिवार के लिए यह बहुत अच्छा समय है जब आप साथ मिलकर बोर्ड गेम खेल सकते हैं। अपने बच्चों को सिखाएं कि चेस और मोनोपोली कैसे खेलें और फिर जब वो आपको खेल में मात दे दें, तब उनके चेहरे पर आई ख़ुशी को देखें।

विज्ञापन

Buy Domex

३) केक बनाएं

अगर आपके बच्चे को बेकिंग करना पसंद है, तो उनकी प्रतिभा को निखारने का यह बहुत अच्छा समय है। इसके लिए सरल सामग्रियों के साथ शुरुआत करें और उनकी मापने और मिश्रण करने में मदद करें। उन्हें अगर रसोई के बर्तन या ऑवन का इस्तेमाल करना हो तो उनकी निगरानी करें। बेकिंग करने से पहले और बाद में बच्चों को हाथ धोना सिखाना न भूलें। अब पूरे परिवार के साथ लजीज मीठे पकवान का आनंद लें।

४) नाचें और गाएं

इससे बेहतर क्या होगा, अगर आप अपने बच्चों को नाचने और गाने में व्यस्त रखें। इसे और अधिक मनोरंजक बनाने के लिए आप कराओके सेट का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके अलावा आप नृत्य कर सकते हैं या फिर आप सब मिलकर अंताक्षरी खेल सकते हैं। हंसी और गीत-संगीत आप सभी को उत्साह और ख़ुशी से भर देगी।

५) क़िताब पढ़ें

इस समय अपने बच्चों को अधिक पढ़ने के लिए प्रोत्साहित करें। पढ़ने से वो व्यस्त और शांत रहेंगे। साथ ही उनके दिमाग और कल्पना को विकसित करने में मदद भी मिलेगी। आप ख़ुद भी शाम को या फिर सोने से पहले उन्हें कविताएं या फिर छोटी कहानियां पढ़कर सुना सकते हैं।

६) घरेलू काम करें

अपने बच्चों को घर के काम में शामिल करके व्यस्त रखें ताकि वो घर के बाहर न जाएं। उन्हें अपने साथ कपड़े तह करने को कहें या फिर कपड़ों को अलमारी में रखने को कहें। इसके अलावा वो डिनर टेबल को सेट करने में या फिर उसे साफ़ करने में भी आपकी मदद कर सकते हैं। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि आपका बच्चा कोई कठिन काम न करें। एक उदाहरण स्थापित करके सफ़ाई को उनके जीवन में मनोरंजक और आवश्यक गतिविधि बनाएं।

घर की कुछ सतहों को परिवार के सभी सदस्यों द्वारा बारंबार छुआ जाता है। चूंकि आपके बच्चे दिनभर घर पर ही रहेंगे, इसलिए वो सबसे ज़्यादा बार छुई जाने वाली सतहों, जैसे स्विच, दरवाज़े के हैंडेल, मेज, नल, कैबिनेट के हैंडेल, टॉयलेट सीट, फ्लश हैंडल, खिलौने और खेलने की चीज़ों को बार-बार छूते रहेंगे। आप इनकी सफ़ाई घर में इस्तेमाल होने वाले डिटर्जेंट को पानी में घोलकर कर सकते हैं। सफ़ाई के बाद आप उन्हें कीटाणुमुक्त करने के लिए कीटाणुनाशक घोल का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए आप ब्लीच से बने (सोडियम हाइपोक्लोराइट) प्रॉडक्ट, जैसे कि डोमेक्स फ़्लोर क्लीनर का इस्तेमाल कर सकते हैं, जो कीटाणुओं को मारता है। प्रॉडक्ट का इस्तेमाल करने से पहले उसकी जांच करने के लिए उसे एक छोटे से हिस्से पर इस्तेमाल करके देखें। साथ ही इस बात का ध्यान रखें कि सफ़ाई में आपका हाथ बंटाने के बाद बच्चे अपने हाथ साबुन से धोएं या फिर अल्कोहल आधारित सैनिटाज़र का इस्तेमाल करें, जैसे कि लाइफबॉय के सैनिटाइज़र, जो बाज़ार में उपलब्ध है।

इन साधारण टिप्स को अपनाकर आप ख़ुद को और अपने बच्चों को संक्रमण से सुरक्षित रख सकते हैं।

मूल रूप से प्रकाशित