विज्ञापन
Buy Cif

क्या आप जानते हैं घर का काम आपके लिए एक अच्छा व्यायाम हो सकता है?

क्या आप अपने घर को साफ़-सुथरा रखने के साथ ख़ुद भी तंदुरुस्त रहना चाहते हैं? तो इन आसान टिप्स से आप घर को साफ़ करने के साथ ख़ुद को तंदुरुस्त भी रख सकते हैं।

अपडेट किया गया

Did You Know Housework Can Be A Great Workout? Find Out More

क्या आप घर के कई सारे काम कर रहे हैं और इसी चक्कर में आप जिम भी नहीं जा पा रहे हैं? तो चिंता की कोई बात नहीं। अगर आप घर की साफ़-सफ़ाई कर रहे हैं और उसे कीटाणुमुक्त रख रहे हैं, तो आप एक्सरसाइज़ भी कर रहे हैं। इस लेख में हम आपको बताएंगे कि घर की सफ़ाई करते वक़्त कैसे आप एक्सरसाइज़ भी कर सकते हैं।

१) सहेजकर रखते वक़्त

आप घर की साफ़-सफ़ाई करते वक़्त सबसे पहले यहां-वहां बिखरी हुई चीज़ों को सहेजकर रखते हैं। फ़र्श, सोफ़ा या बेड पर बिखरी चीज़ें, जैसे खिलौने, किताब, पेपर, कपड़े इत्यादि को उठाते वक़्त स्क्वॉट करें। पूरे शरीर की एक्सरसाइज़ के लिए स्क्वॉटिंग एक बेहतरीन उपाय है।

२) सफ़ाई करते वक़्त

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइज़ेशन सलाह देता है कि सबसे ज़्यादा बार छुई जानेवाली चीजें, जैसे मेज़, कुर्सी, दरवाज़े के हैंडल, कैबिनेट के हैंडल आदि को नियमित रूप से साफ़ और कीटाणुमुक्त करते रहना चाहिए। साथ ही जब भी कोई बीमार व्यक्ति खांसता या फिर छींकता है, तो इससे कीटाणु ३ फ़िट तक फैल सकते हैं और संक्रमण फैल सकता है। साथ ही वो घर की अलग-अलग सतहों पर जाकर चिपक सकते हैं। इसलिए इन सभी सतहों को साफ़ करने के लिए घर में इस्तेमाल किए जानेवाले डिटर्जेंट को पानी में मिलाकर सफ़ाई करें। सफ़ाई के बाद स्वच्छता के लिए उन्हें कीटाणुमुक्त भी रखें। इसके लिए आप ब्लीच-बेस्ड (सोडियम हाइपोक्लोराइट) प्रॉडक्ट, जैसे कि डोमेक्स फ़्लोर क्लीनर का इस्तेमाल कर सकते हैं, जो कीटाणुओं को मारता है। प्रॉडक्ट का इस्तेमाल करने से पहले उसकी जांच करने के लिए उसे एक छोटे से हिस्से पर इस्तेमाल करके देखें।

आप जब भी सतहों की सफ़ाई या फिर उन्हें कीटाणुमुक्त करते हैं, तो आपका बेहतरीन वर्कआउट हो जाता है। साथ ही सफ़ाई करते वक़्त फ़र्निचर को घुमाना या फिर कोनों में जमी धूल-मिट्टी को साफ़ करना भी एक बेहतरीन एक्सरसाइज़ है। अगर आपको इसमें और भी ज़्यादा एक्सरसाइज़ करनी है, तो खड़े रहकर पोंछा लगाने की बजाय बैठकर पोंछा लगाएं।

विज्ञापन

Buy Cif

३) बर्तनों को धोते वक़्त

मुंह या फिर नाक से निकलने वाली छोटी-छोटी बूंदों की वजह से कीटाणु फैलते हैं। इसलिए घर के सारे सदस्य अलग-अलग बर्तनों और क्रॉकरी, जैसे डिश, कप, बाउल, चम्मच आदि का इस्तेमाल करेंगे तो बेहतर होगा। इससे कीटाणु भी नहीं फैलेंगे और आपके पास धोने के लिए सारे बर्तन भी होंगे। बर्तन को धोते वक़्त खड़े रहकर दोनों हाथ और कंधों का इस्तेमाल करें। खड़े रहकर बर्तन धोने से ख़ूब सारी  कैलरी बर्न होगी। बर्तन को धोने की वजह से हाथ और कंधों का अच्छा वर्कआउट होगा।

४) कपड़ों की धुलाई करते वक़्त

कपड़ों को रोज़ाना धोना ज़रूरी है। इससे कपड़ों पर कीटाणु नहीं पनपते हैं और कोई संक्रमण भी नहीं होता। आपके घर में वॉशिंग मशीन तो होगी ही, पर कुछ ऐसे कपड़े भी होंगे जिनका रंग न छूटे और वो ख़राब न हो इसलिए उन्हें हाथ से धोना पड़ता होगा। ऐसे कपड़ों को आप बाथरूम की फ़र्श पर धो सकते हैं। आप चाहें तो कपड़ों को बेसिन में भी धो सकते हैं। कपड़ों को बैठकर या फिर खड़े रहकर धोने से भी आपकी अच्छी एक्सरसाइज़ हो जाएगी। अगर आप कपड़ों को खड़े रहकर धोएं तो बेहतर होगा। इससे हाथ, कंधों के साथ कमर और पैरों की भी एक्सरसाइज़ होगी।

आप घर के बाहर नहीं जा सकते तो क्या हुआ, आप घर के काम करके भी एक्सरसाइज़ कर सकते हैं।

मूल रूप से प्रकाशित