अपनी या परिवार की सेहत के साथ न करें समझौता! संकेत जो कहते हैं कि आपके वॉटर प्यूरीफायर को बदलने का वक़्त आ गया है

परिवार की सेहत की जिम्मेदारी अगर आपके कंधों पर है तो उनकी सेहत से खेलना भारी पड़ सकता है। वहीं जब बात परिवार की सेहत की हो तो सबसे पहले घर में इस्तेमाल किए जा रहे पानी का ख्याल आता है।

२९ जुलाई २०१९

Don’t Compromise on Your Family’s Health - Signs That Your Water Filter Needs a Replacement
घर के अंदर

आज हर परिवार के पास उनका अपना वॉटर प्यूरीफायर है। जिससे मिलने वाली पानी पर वो आंखें बंद करके भी भरोसा करते हैं। हालांकि कब आपका वॉटर प्यूरीफायर खराब पानी देना शुरू कर दे इस बारे में लोग ध्यान नहीं देते और वो भूल जाते हैं कि उनके बेस्ट क्वालिटी और महंगे प्यूरीफायर को भी मरम्मत की ज़रूरत होती है।

यह बहुत ही आम है कि हम लोग प्यूरीफायर में आ रही खराबी पर जल्दी ध्यान नहीं देते। इन्हीं छोटी-छोटी बातों को ध्यान में रखने के लिए हमारी यह गाइड आपके बहुत ही काम की चीज है!

अपने घर में हमेशा एक नया फिल्टर रखें, ताकि ज़रूरत के समय आप बिना देरी किए इसे बदल सकें। आपके वॉटर प्यूरीफायर में इस्तेमाल होने वाला फिल्टर कौन सा है या उसका मॉडल नंबर क्या है इसकी जानकारी आप मार्केट से पता कर सकते हैं। साथ ही आप अपने फिल्टर ब्रांड के मैनुअल या उसे बनाने वाली कंपनी की वेबसाइट से भी आसानी से पा सकते हैं।

जानें आपके वॉटर प्यूरीफायर का जीवन चक्र

हर दूसरी चीजों की तरह ही वॉटर प्यूरीफायर का जीवन चक्र भी तय होता है। हालांकि, पानी के फिल्टर की उम्र इस बात पर ज़्यादा निर्भर करती है कि वह हर दिन पानी की कितनी मात्रा साफ करता है। हर घर में पानी की मात्रा का उपयोग अलग-अलग होता है इसलिए नीचे बताई जा रही बातों पर ध्यान दें।

  • अगर आपके घर में खारा पानी या हार्ड वॉर्टर का इस्तेमाल होता है तो इससे फिल्टर जल्दी खराब होता है।
  • आपके घर में पानी आने से पहले उसे स्वच्छ करने के लिए उसमें मिलाया गया किसी तरह का कैमिकल भी इसका कारण बन सकता है।
  • अगर आप हर दिन परिवार की ज़रूरतों के मुताबिक ज़्यादा पानी का इस्तेमाल करते हैं तो भी आपका फिल्टर जल्दी खराब होता है, जैसे ८० से १०० गैलन प्रति दिन।

वो इशारे जो बताते हैं अब बदल दें अपना फिल्टर

कभी-कभी आपका फिल्टर कुछ ऐसे इशारे करता है जो यह बताने की कोशिश करता है कि अब फिल्टर को बदलने का वक़्त आ गया है।

  • जब पानी से बदबू आने लगे या पानी का स्वाद बदलने लगे।
  • जब पानी का दबाव धीरे-धीरे कम होने लगे यानी फिल्टर पहले के मुकाबले साफ पानी कम मात्रा में बना रहा हो।
  • जब फिल्टर का इंडिकेटर सूचना देने लगे।
  • जब कोई एक्टिव कॉर्बन फिल्टर ब्लॉक हो जाता है तो वह पानी साफ करने की मात्रा कम कर देता है। ऐसे में आपको इसे बदलने की ज़रूरत होती है।

इसी के साथ ही वॉटर फ़िल्टर के कार्टिज को भी ३ से ६ महीने के अंतराल में ज़रूर बदलें। मानाकि बदलते रहन-सहन ने आपको काफी व्यस्त कर दिया है, ऐसे में इसे बदलने की बात शायद आपको याद रहे या ना रहे, मगर चिंता ना करें प्यूरीफायर में मौजूद इंडिकेटर फ़िल्टर के ख़राब होने की सूचना भी आपको बराबर देता रहता है।

हमेशा यह सुनिश्चित करें कि आपने फिल्टर पर दिए गए दिशानिर्देशों की पूरी तरह से जांच परख कर ली है।