पाएं बेस्ट जब करें इन्वेस्ट - वॉटर प्यूरीफायर को बनाये रखें नए जैसा इन स्मार्ट टिप्स से

मॉर्डन ज़माने में वॉटर प्यूरीफ़ायर एक अहम भूमिका निभा रहा है। घर-घर में तेजी से इसकी उपयोगिता बढ़ती जा रही है। अलग अलग प्रकार के टेक्नोलॉजी व फ़िल्टर का इस्तेमाल यह सुनिश्चित करता है कि आप जो पानी पीएं वो साफ़, शुद्ध और भौतिक या जैविक अशुद्धियों से मुक्त हो। तो वॉटर प्यूरीफ़ायर में किए गए इन्वेस्टमेंट को कैसे बनाएं बेस्ट? आइए जानें इन टिप्स से।

अपडेट किया गया

Don’t Compromise on Your Family’s Health - Signs That Your Water Filter Needs a Replacement

१) बदलते रहें वॉटर फिल्टर

वॉटर प्यूरीफ़ायर में फिल्टर का योगदान अहम होता है, ये बहुत तेज़ी से काम करता है और पानी की अशुद्धियों को दूर करने में भी इसकी भूमिका अहम होती है। यह हम तक शुद्ध पानी पहुंचाता है। ऐसे में फ़िल्टर में खराबी से पानी का फ्लो कम हो जाता है, पानी का स्वाद बदल जाता है या फिर पानी से बदबू आने लगती है। इनमें से कोई भी समस्या अगर सिर उठाने लगे तो समझ जाएं कि फ़िल्टर को बदलने का वक्त आ गया है और देर ना करते हुए जल्द से जल्द फ़िल्टर को बदल दें।

वॉटर प्यूरीफ़ायर खरीदने से पहले यह जान लें कि आपके घर में किस टाइप का पानी आता है, इससे वॉटर प्यूरीफ़ायर को मेंटेन करना आसान होगा।

२) नियमित करवाएं सर्विसिंग

अभी नहीं तो कभी नहीं आपने सुना ही होगा, तो इस चक्कर में आ पड़ते हुए नियमित रूप से वेल ट्रेन्ड टेक्नीशियन की मदद से वॉटर प्यूरीफ़ायर की सर्विसिंग करवाना ना भूलें। खैर, यह जिम्मेदार हुए टेक्नीशियन की, रोजाना आप भी अपनी ओर से इसकी सफाई करती रहें स्टोरेज टैंक के पानी को जमने ना दें इसे बहा दें। ध्यान रहे कि ४८ घंटे से अधिक समय तक टैंक में इकठ्ठा ना होने पाए।

३) रिसाव को नजरअंदाज ना करें

अगर आपके वॉटर प्यूरीफ़ायर से लगातार रिसाव हो रहा है या फिर पानी के टपकने की शिकायत है तो इसे नजरअंदाज करने की गलती ना करें, आगे चलकर यह भारी पड़ सकती है। ऐसे में वेल ट्रेन्ड टेक्नीशियन से संपर्क करें और जानें की रिसाव का कारण क्या है। जब यह जान जानें तो इसका समाधान जल्द से जल्द निकलने की कोशिश करें, अगर सील करने की जरूरत है तो तुरंत सील करें। ध्यान रहे छोटे से चोट को रोग में बदलने ना दें।

४) बदल दें आर ओ मेम्ब्रेन

आर ओ टेक्नॉलोजी में मेम्ब्रेन यानी कि जाली के ज़रिये ही पानी को साफ़ करने की प्रक्रिया होती है। ऐसे में अगर मेम्ब्रेन में किसी तरह की खराबी हो जाए या इसके लगातार काम करने से जाली झिल्लीदार हो जाए या जाली ब्लॉक हो जाये या फिर इसमें छिद्र बन जाए तो ये पानी की अशुध्दियों को दूर करने में असफल हो जाता है। इसलिए ज़रूरी है कि आप समय रहते इसे बदल दें, जब भी आपको लगे कि पानी की अशुद्धियां बरकरार हैं तो मेम्ब्रेन को बदलने में बिलकुल भी देरी ना करें।

५) सालाना मेनटेनेन्स

वॉटर प्यूरीफ़ायर की उम्र बढ़ाने के लिए इसके मेनटेंटेंस पर ध्यान देना बहुत ज़रूरी है मानकि आप हर माह इसकी सर्विसिंग नहीं कर सकतीं, मगर सालाना इसकी जांच और मरम्मत जरूर करवाएं। इसके लिए ट्रेन्ड प्रोफेशनल की मदद लें और बिना भूले साल में एक बार जरूर सर्विसिंग करवाएं। तभी आपका वॉटर प्यूरीफ़ायर रहेगा नए जैसा हमेशा।

मूल रूप से प्रकाशित