यहाँ पर उन बातों की सूची दी गई है कि वॉटर प्यूरीफायर के साथ क्या गलत हुआ होगा|

  • टोटल डिज़ॉल्व्ड सॉलिड्स (टी डी एस) का स्तर धीरे-धीरे बढ़ सकता है|
  • यदि आप अपने हाथों को ठीक से सैनिटाइज़ किए बिना फिल्टर बदलते हैं तो सिस्टम में बैक्टीरिया की परत भी बन सकती है|
  • आयरन, आर्सेनिक या मर्क्युरी से गंध या धातु जैसा स्वाद आपके पानी में जा रहा है|
  • म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन द्वारा अधिक क्लोरीन का उपयोग करने के कारण वह प्यूरीफायर में प्रतिक्रिया कर सकता है जिसके कारण पानी में से बदबू आती है|
  • जब पानी जमीन में से गुज़रता है तब ये हायड्रोजन सल्फाइड को सोख लेता है, जो बदबू का कारण हो सकता है|