आपके कपड़ों पर सफ़ेद दाग़? मशीन नहीं है ख़राब, इसका कारण है कुछ और जनाब!

क्या वॉशिंग मशीन में धुले कपड़ों पर दिख रहे हैं सफ़ेद दाग़? इसका कतई यह मतलब नहीं कि आपकी मशीन हो गई है ख़राब। तो आइए जानें क्या है इसका कारण और निवारण।

अपडेट किया गया

Is your washing machine leaving white marks on your clothes? Here’s how you can fix it

वॉशिंग मशीन से धुल कर निकलने वाले कपड़ों पर दाग़ होने के कई कारण हो सकते हैं, जो शायद आपको पता भी न हो। एक दफ़ा इन टिप्स को आज़माएं।

१) मशीन को साफ़ रखें

वॉशिंग मशीन की ज़्यादा दिनों तक सफ़ाई न करने से उसके अंदर फफूंदी लग जाती है, शायद उस वजह से आपके कपड़े दाग़दार नज़र आ सकते हैं। ऐसे में मशीन में कपड़े डालने से पहले वॉश या रिंस सायकल में पानी सहित १ कप विनेगर डालें और मशीन चलाएं। फिर इसे ड्रेन करें। ऐसा करने से कपड़ों पर आनेवाले सफ़ेद दाग़ कम हो सकते हैं।

२) लिक्विड डिटर्जेंट इस्तेमाल करें

वॉशिंग मशीन में कपड़े धोने के लिए वॉशिंग पाउडर की बजाय सर्फ़ एक्सेल मैटिक लिक्विड का उपयोग करें। ये पानी में आसानी से घुलता है और कपड़ों की सफ़ाई भी अच्छी तरह करता है। इसे विशेष रूप से वॉशिंग मशीन के लिए बनाया गया है। इसके अलावा ये मशीन में अन्य डिटर्जेंट पाउडर की तरह पाउडर के कण नहीं छोड़ते।

३) ओवरलोडिंग से बचें

वॉशिंग मशीन में उसकी क्षमता से अधिक कपड़े डालना भी कपड़ों पर सफ़ेद दाग़ आने का एक कारण हो सकता है। इसलिए वॉशिंग मशीन में कपड़ों की ओवरलोडिंग से बचें। हर वॉशिंग मशीन की कपड़े धोने की क्षमता अलग-अलग होती है। सो, उसे ध्यान में रखकर कपड़े लोड करें।

४) कपड़ों को दोबारा खंगालें

जब पानी में डिटर्जेंट पूरी तरह नहीं घुलता, तब भी डिटर्जेंट के छोटे–छोटे कण कपड़ों पर रह जाते हैं, जिससे कपड़ों पर सफ़ेद दाग़ नज़र आते हैं। इसलिए वॉशिंग मशीन में कपड़े धोने के बाद उसे एक बार फिर मशीन में खंगालें।

५) फ़ैब्रिक सॉफ़्टनर ज़रूरत अनुसार डालें

कपड़ों को मुलायम और ख़ुशबूदार बनाने के लिए उतना ही फ़ैब्रिक सॉफ़्टनर डालें, जितनी कि ज़रूरत है। अधिक फ़ैब्रिक सॉफ़्टनर इस्तेमाल करने से कपड़ों पर दाग़ नज़र आ सकते हैं। ऐसे में ज़रूरत अनुसार डालने पर कपड़े साफ़ भी होंगे और ख़ुशबूदार भी।

क्यों, हो गई ना सफ़ेद दाग़ की समस्या हल !

मूल रूप से प्रकाशित