बच्चों के कमरे को रखना है जर्म फ्री? अपनाएं ये टिप्स और रहें टेंशन फ्री!

क्या आप भी अपने बच्चों को सुरक्षित रखने के लिए उनके आगे-पीछे एंटी बैक्टेरियल प्रोडक्ट लेकर घूमते हैं? तो अब ऐसा न करें। उनके कमरे को इन टिप्स से जर्म फ्री बनाएं।

७ अगस्त २०१९

Your child’s room should be the safest place for them. Check out these tips to keep child’s room fresh and germ-free!
घर के अंदर

अपने बच्चों को कीटाणुओं से बचाने के लिए उनके कमरे को कुछ इस तरह उनका सुरक्षा कवच बनाएं।

प्रो-टिपबीमारी की सबसे बड़ी वजह है गंदगी। इसलिए बच्चों के कमरे को हमेशा साफ़ और स्वच्छ रखें। गंदगी से कई तरह के कीटाणु पनपते हैं, जो बच्चों की सेहत के लिए हानिकारक हैं।

१) जूते बाहर रखें

बच्चे जब भी बाहर से खेलकर घर आएं उन्हें जूते हमेशा मुख्य दरवाज़े पर ही निकालकर अंदर आने को कहें। इससे कीटाणु घर के बाहर ही रहेंगे, अंदर नहीं आ पाएंगे जिससे कमरा जर्म फ्री होगा।

२) बेडशीट बदलते रहें

बच्चों के बेडशीट को नियमित अंतराल पर बदलते रहें। अगर वे गंदे न दिख रहे हों, तब भी क्योंकि पसीने आदि के कारण इसमें कीटाणुओं के पनपने की संभावना अधिक होती है।

३) धूल साफ़ करें

मानाकि आप कमरे में धूल को आने से रोक नहीं सकते, मगर धूल की सफ़ाई तो कर ही सकते हैं। अत: फ़र्श, फ़र्नीचर, शो पीसेस आदि पर अगर धूल दिखाई देती है तो उसे तुरंत झाड़ू या वैक्यूम क्लीनर से साफ़ करें। धूल अपने साथ कई तरह की एलर्जी लाते हैं, जो बच्चों की सेहत के लिए घातक है।

४) खिड़कियां साफ़ करें

खिड़कियों की सफ़ाई पर भी ध्यान दें। स्लाइडिंग से लेकर ग्रिल पर चिपकी धूल भी बच्चों को बीमार कर सकती है। रोज़ाना न सही, मगर सप्ताह में एक बार खिड़की और फैन ज़रूर साफ़ करें।

५) सुगंधित तेल (ऐसेंशियल ऑयल) छिड़कें

बच्चों के कमरे को पूरी तरह से सुरक्षित रखने के लिए १ कप गुनगुने पानी में सुगंधित तेल (जिसे आवश्यक तेल भी कहते हैं) की कुछ बूंदें डालें और इसे स्प्रे बॉटल में भरकर कमरे में छिड़कें। इससे कीटाणु बच्चों का बाल भी बांका नहीं कर पाएंगे।

इस तरह आपके बच्चे का कमरा पूरी तरह से सुरक्षित हो गया है!