Skip to content
Want to up your waterborne disease knowledge? Here’s some comprehensive information of diseases and the preventative measures that you can take
रसोई की सफाई

क्या आप पानी से होने वाली बीमारियों के बारे में अपनी जानकारी बढ़ाना चाहते हैं? हम यहाँ पर एक विस्तृत सूची दे रहे हैं, जिसमें बीमारियाँ, उनके कारण और उनकी रोकथाम के उपाय बताए गए हैं|

पानी से होने वाली बीमारियाँ पानी के संदूषण के कारण होती हैं| ऐसे अनेक प्रकार के विषाणु होते हैं, जो आपके स्वास्थ्य को गंभीर रूप से प्रभावित कर सकते हैं|

80% से अधिक बीमारियाँ पानी से जन्म लेती हैं| पानी से अनेक प्रकार की बीमारियाँ होती हैं, जैसे दस्त, हैज़ा, पोलियो और मेनिंजाइटिस| तो नीचे दी गई सूची में देखिए पानी से होने वाली बीमारियाँ, उनके कारण और उनकी रोकथाम के उपाय|

  • हैज़ा

विब्रियो कोलेरो नामक एक बैक्टेरिया से हैजा नामक एक अत्यंत संक्रामक बीमारी होती है| यह बीमारी संदूषित विषैले पानी और साथ ही समुद्री भोजन का सेवन करने से फैलती है| रोकथाम के उपाय : 20 लीटर पानी को स्वच्छ बनाने के लिए उसमें 1 चम्मच ब्लीच मिलाएँ! पानी को 60 मिनट के बाद ही पिने के लिए उपयोग करें|

  • टायफ़ाइड

यह बुखार आम तौर पर उन जगहों पर ज़्यादा होता है, जहाँ स्वच्छता पर्याप्त नहीं होती है| रोकथाम के उपाय : उपयुक्त साफ़-सफ़ाई और स्वच्छता का विशेष ध्यान रखें| खाने से पहले और शौच के बाद हाथों को अवश्य धोएँ| फलों और सब्ज़ियों को उपयोग से पहले धोएँ|

  • पेचिश

पेचिश का सबसे आम कारण है उन कच्चे फलों और सब्ज़ियों का सेवन करना, जिनकी सिंचाई संदूषित पानी से हुई हो|
रोकथाम के उपाय : पूर्ण स्वच्छता का पालन करें! पानी का क्लोरीनाइज़ेशन या आयोडीन उपचार बहुत आवश्यक है|

  • आंत्रशोध (यात्रियों का रोग)

यह बीमारी संक्रमित भोजन और पानी को खाने से फैलती है और साथ ही यह संक्रमित सतहों के संपर्क से भी होती है| इसके लक्षण हैं पेटदर्द, मतली, दस्त आदि|
रोकथाम के उपाय : उबला हुआ या रिवर्स ओस्मोसिस से शुद्ध पानी या पानी का डिस्टिलेशन!

इनमें से किसी भी बीमारी से बचने के लिए उपयुक्त रोकथामकारी उपाय करें|

प्रो-टिप

एक अच्छा वाटर प्युरीफ़ायर लगवाएँ| इससे पानी के कारण होने वाली बीमारियों का खतरा बहुत हद तक कम हो जाएगा|