अलग अलग प्रकार के कपड़ों के लिए धुलाई की बेहतरीन पद्धतियाँ|
लॉन्ड्री

अलग अलग प्रकार के कपड़ों के लिए धुलाई की बेहतरीन पद्धतियाँ|

यह तय करना हमेशा कठिन होता है कि अलग अलग प्रकार के कपड़ों को कैसे धोया जाए| मशीन की सेटिंग क्या होनी चाहिए? क्या सिल्क को हाथ से धोया जा सकता है? इन सारी दुविधाओं के बीच हम सारे कपड़ों को एक स्टैंड़र्ड सेटिंग के साथ मशीन में ड़ाल देते हैं| सर्फ एक्सेल से अपने कपड़ें को धोते हुए इन सुझावों को अपने कपड़े लंबे समय तक टिकाऊ बनाए रखने के लिए इन सुझावों पर विचार करें|

अलग अलग प्रकार के कपड़ों के लिए धुलाई की बेहतरीन पद्धतियाँ|

यह तय करना हमेशा कठिन होता है कि अलग अलग प्रकार के कपड़ों को कैसे धोया जाए| मशीन की सेटिंग क्या होनी चाहिए? क्या सिल्क को हाथ से धोया जा सकता है? इन सारी दुविधाओं के बीच हम सारे कपड़ों को एक स्टैंड़र्ड सेटिंग के साथ मशीन में ड़ाल देते हैं| सर्फ एक्सेल से अपने कपड़ें को धोते हुए इन सुझावों को अपने कपड़े लंबे समय तक टिकाऊ बनाए रखने के लिए इन सुझावों पर विचार करें|

  • कॉटन:

    जीन्स और कॉटन की पैंट्स को ठंड़े पानी में धोएं| सर्फ एक्सेल लिक्विड ड़ालकर सफेद कॉटन के कपड़ों से दाग़ निकालें| रंगीन कपड़े नॉन क्लोरीन ब्लीच सोल्यूशन से चमकदार बनाए जा सकते हैं| धुलाई के लिए गर्म पानी पसंद किया जाना चाहिए|

  • पॉलिएस्टर:

    पॉलिएस्टर का ख्याल रखना आसान है, लेकिन इस पर दाग कायम रहते हैं| दाग़ वाले पैच पर स्टेन रिमूवर रगड़ें और उसे धोने से पहले १० से २० मिनट तक रहने दें|

  • ऊन:

    ऊन को धोया जा सकता है लेकिन जहाँ भी लेबल पर निर्देश दिया गया है वहां ऊन के कपड़ों को ड्राय-क्लीन करें| अपने ऊनी कपड़ों को गुनगुने पानी में धोएं| धोने के लिए ठंडे पानी का उपयोग करने से सिकुड़न आ सकती है|

  • सिल्क:

    अधिकतर सिल्क लेबल्स पर ''सिर्फ ड्राय क्लीन करने'' का निर्देश होता है| धोने लायक सिल्क को बेबी शैम्पू का उपयोग करके हाथ से धोया जा सकता है क्योंकि उनमें एडिटिव्स नहीं होते|

टॉप टीप


कपड़ों की सही धुलाई के लिए कपड़ों पे लगे लेबल को पढ़े