क्या आपके घर की बाहरी दीवारें कठोर मौसमी परिस्थितियों के कारण पपड़ीदार हो गई हैं? हम यहाँ इसके समाधान के लिए कुछ तरीके बताने जा रहे हैं!

पेन्ट की पपड़ियाँ निकलना एक आम समस्या है, खास तौर पर ज़्यादा आर्द्रता वाली जगहों पर| अगर आप इसका इलाज जल्दी नहीं करें, तो इससे समस्या बढ़ सकती है, जैसे कि फफूँदी पनपना|

नमी और पानी के अवशोषण के विरुद्ध कमज़ोर सुरक्षा होना पपड़ीदार दीवारों के दो प्रमुख कारण हैं| अब इन सुझावों की मदद से पपड़ीदार दीवारों को कहिए अलविदा|

दीवार को धोएँ और फिलर लगाने से पहले इसे सूख जाने दें, जिससे फिर से पपड़ियाँ न बन पाएँ|

1) समस्या की पहचान करें

अगर आपको समस्या का मूल कारण पता नहीं है, तो आपके द्वारा की जाने वाली मरम्मत उतनी असरदार नहीं होगी| बाहरी दीवारें कई कारणों से पपड़ीदार हो सकती हैं, जैसे नमी का इकट्ठा होना, प्रतिकूल मौसमी परिस्थितियों में पेन्टिंग, हलकी गुणवत्ता वाले उत्पादों के कारण चिपकाव नाकाम होना या सामान्य क्षरण होना|

2) ढीले पेन्ट को निकाल दें

एक स्क्रेपर की मदद से, पेन्ट को निकाल दें! एक तार का ब्रश लें और बची हुई धूल को झाड़ दें| चिकनाई के लिए एक फ़ाइन-ग्रिट सैंडपेपर का उपयोग करें|

3) एक प्री-पेन्ट क्लीनर का उपयोग करें

ये विशेष क्लीनिंग सॉल्यूशन सबस्ट्रेट और पेन्ट के बीच एक अच्छे जुड़ाव को बढ़ावा देते हैं| ये फफूँद के स्पोर्स को भी मार देते हैं, जिससे भविष्य में फफूँद के पनपने की रोकथाम होती है|

4) एक अच्छी गुणवत्ता वाले फिलर का उपयोग करें

दरारों और छिद्रों की मरम्मत करने के लिए इसे इसके निर्माता के निर्देशों के अनुसार इस्तेमाल करें| इसे सूखने दें और फिर एक सैंडपेपर का उपयोग करें|